क्रिकेट के टी10 फॉर्मेट को ओलंपिक में देखना चाहते हैं ‘यूनिवर्स बॉस’, बोले- इससे हासिल होगा बड़ा…


वेस्टइंडीज के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल चाहते हैं कि क्रिकेट का ताजा और छोटा प्रारूप टी10 को ओलंपिक खेलों के कार्यक्रम में शामिल किया जाए। अबुधाबी टी10 लीग के आगामी सत्र में टीम अबुधाबी का प्रतिनिधित्व कर रहे गेल को लगता है कि टी10 ऐसा प्रारूप है जो दुनिया की बड़ी खेल प्रतियोगिताओं में क्रिकेट के प्रवेश को आगे बढ़ा सकता है। जमैका में अपने घर से गेल ने कहा कि वह टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए उत्सुक हैं।

टी10 के भविष्य की संभावनाओं के बारे में बात करते हुए गेल ने कहा, ‘‘मैं टी10 को ओलंपिक में देखना पसंद करूंगा। यह सामान्य दृष्टिकोण से खेल के लिए काफी बड़ी चीज होगी। मुझे यह भी लगता है कि टी10 अमेरिका में भी हो सकता है। मुझे लगता है कि क्रिकेट के लिये ज्यादातर लोग अमेरिका को नहीं पहचानते, लेकिन टी10 अमेरिका के अंदर कराने के लिए बिल्कुल उपयुक्त है और मेरा मानना है कि यह बड़ा राजस्व हासिल करने में भी मदद कर सकता है।’’

गेल ने कहा, ‘‘इस समय मैं आराम कर रहा हूं जिसकी मुझे जरूरत है, लेकिन अबुधाबी टी10 लीग को ध्यान में रखते हुए मैं जल्द ही कुछ ट्रेनिंग शुरू करूंगा और खेलने के लिये तैयार हो जाऊंगा। ’’ दो सत्र के बाद वह इस लीग में वापसी कर रहे हैं जिससे वह काफी खुश हैं। उन्होंने कहा, ‘‘काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं जो इसमें होंगे जैसे कीरोन पोलार्ड और अन्य अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी।’’

गेल ने आगे कहा, ‘‘मैं निश्चित रूप से टीम अबुधाबी में वापसी करके खुश हूं। दक्षिण अफ्रीका के क्रिस मॉरिस भी मेरी टीम में हैं और मैं पहले भी उनके साथ खेला हूं इसलिए उनके साथ और अन्य खिलाड़ियों के साथ खेलने के लिए वापसी करना अच्छा है।’’ पहली बार 2017 में यह टूर्नामेंट खेला गया था तब वीरेंद्र सहवाग मराठा अरेबियंस के आइकन प्लेयर थे। उनकी टीम सेमीफाइनल में हार गई थी। केरला किंग्स की टीम चैंपियन बनी थी। उसके बाद 2018 में नॉर्दर्न वारियर्स और 2019 में मराठा अरेबियंस ने जीत हासिल की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो





.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *