डायबिटीज की समस्या से पाना हैं छुटकारा तो सीताफल का करें इस्


डेस्क। हमारे आसपास कई प्रकार के फल पाए जाते हैं, जिनमें से सीताफल भी प्रमुख है। सीताफल को ‘शरीफा’ भी कहा जाता है। सीताफल सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। जिसके कई स्वास्थ्य संबंधी फायदे होते है। इसमें कैल्शिम और फाइबर जैसे न्यूट्रिएंट्स भरपूर मात्रा पाएं जाते है। जो आर्थराइटिस और कब्ज जैसी हेल्थ प्रॉब्लम से निजात देने में मददगार होते है। आम तौर पर यह फल ताजा रस या शर्बत या पेय पदार्थ बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह कैल्शियम, लोहा और फास्फोरस का एक बड़ा स्रोत है। इसके बीज विषाक्त होते हैं, लेकिन इसका उपयोग कीटनाशक के रूप में किया जाता है और सिर की जूँ के इलाज के लिए भी किया जाता है।

 

इसके पेड़ की छाल का इस्तेमाल दवाइयों को बनाने के लिए किया जाता है। चलिए हम आपको सीताफल से होने वाले फायदों के बारे में बताएंगे, जिससे के इस्तेमाल से आप कई तरह की बीमारियों से बच सकते है।

हार्ट प्रॉबल्स: हार्ट अटैक के खतरे को कम करने के लिए भी सीताफल का उपयोग किया जा सकता है। इस फल में मैग्नीशियम मौजूद होता है, जो हार्ट प्रॉबल्स को दूर करता है। इसलिए हार्ट के मरीजों को सीताफल का सेवन करना चाहिए। 

ये खबर भी पढ़े: मच्छर के डंक को बेअसर कर देंगे ये घरेलू नुस्खे, जानें इस्तेमाल करने का तरीका

ब्लड प्रैशन: ब्लड प्रेशर को सामान्य बनाए रखने के लिए भी सीताफल का उपयोग किया जा सकता है। सीताफल में कुछ मात्रा मैग्नीशियम और कैल्शियम मौजूद होता है इसमें ब्लड प्रैशर को केट्रोल करना वाला तत्व पौटेशियम होता है।

डायबिटीज की समस्या से मिलेगी निजात: सीताफल खाने से ब्लड शुगर का लेवन कम होता है, जिससे डायबिटीज की समस्या से बचा जा सकता है।

डिप्रैशन की परेशानी होगी दूर: इस फल में विटामिन बी होता है, जो डिप्रैशन की परेशानी को दूर करता है।

ब्रैन पावर: सीताफल में विटामिन बी6 होता है, जो दिमाग को तेज करता है और ब्रैन को फ्रैश रखता है।

डाइजेशन: सीताफल में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है, जो डाइजेशन के लिए सहायक माना जाता है।

नहीं होगी खून की कमी: इस फल में मौजूद आयरन और कॉपर शरीर में खून की कमी को पूरा करता है।

दांतों को रखे: सीताफल आपके दांतों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत उत्तम है। इसको नियमित खाकर आप दांतों और मसूड़ों में होने वाले दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

Download app: अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *