ब्रिटेन में घाटे में चल रहे स्कूलों को खरीद रहा चीन, बड़ी साजिश की तैयारी


लंदन। दुनियाभर में फैली कोरोना महामारी के कारण ब्रिटेन के कई स्कूल घाटे में चल रहे हैं। इसका फायदा उठाते हुए चीन यहां के 17 स्कूलों को खरीद चुका है जिसका उपयोग चीन अपनी विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए कर रहा है।

कोरोना महामारी की वजह से ब्रिटेन में बनी इस स्थिति से चीन को यहां अपने पैर जमाने का मौका मिल गया है। चीनी सेना पीएलए और चीन कम्युनिस्ट पार्टी से संबंध रखने वाली कई कंपनियां यहां औने-पौने दामों में स्कूल खरीद रही हैं। इसके पीछे चीन की योजना है कि हालात ठीक होने पर इन स्कूलों को पुराने नामों से फिर से चालू किया जाए और यहां चीन समर्थक विचारधारा को आगे बढ़ाया जाए। ऐसा होने पर ब्रिटेन के बच्चे बचपन से ही चीन समर्थक बनने शुरू हो जाएंगे।

यह खबर भी पढ़े: इस देश में किसी की मौत हो जाए तो काट दिया जाता हैं महिलाओं का ये अंग

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक चीनी कंपनियां अब तक ब्रिटेन के 17 स्कूलों को खरीद चुकी हैं और यह आंकड़ा तेजी से आगे बढ़ रहा है। रिपोर्ट के अनुसार इन 17 में से 09 स्कूलों के मालिक चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सक्रिय मेंबर हैं। चीनी कंपनियों ने प्रिंसेज डायना प्रीपेटरी स्कूल को भी खरीद लिया है। ब्रिटिश स्कूलों के अधिग्रहण में लगी एक चीनी कंपनी ने स्वीकार किया कि दुनियाभर में चीन के प्रभाव के विस्तार के लिए इस रणनीति पर काम किया जा रहा है।

Download app: अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *