राजस्थान के इस जिले में बिक रहा देश का सबसे महंगा पेट्रोल-डी


जयपुर। पेट्रोल और डीजल के दाम हर दिन नया रिकॉर्ड बना रहे हैं। सरकारी तेल कंपनियों ने सोमवार को लगातार सातवें दिन पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी कर दी है। सोमवार को पेट्रोल के दाम 27 पैसे और डीजल के दाम 31 पैसे बढ़ाए गए हैं। नए साल में पेट्रोल और डीजल के दामों में ये 19वीं बढ़ोतरी है। पूरे देश में राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल बिक रहा है। यहां प्रीमियम पेट्रोल की कीमत 102.34 और टर्बो डीजल 95.15 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। जबकि सामान्य पेट्रोल 99.56 और डीजल 91.48 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

ये कीमतें देश के विभिन्न शहरों से भी अधिक है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में पेट्रोल-डीजल की कीमतें अधिक होने की वजह यह है कि यहां पर वैट सबसे अधिक है। अलग-अलग राज्य में डीजल-पेट्रोल पर लगने वाला टैक्स और वैट अलग-अलग है, जिसकी वजह से हर जगह कीमतें कम-ज्यादा होती हैं। जहां अधिक टैक्स लगते हैं, वहां पर कीमत अधिक हो जाती है। श्रीगंगानगर में वैट सबसे अधिक होने की वजह से यहां लोगों को सबसे अधिक कीमत चुकानी होती है।

राजस्थान में कितना है वैट

राजस्थान सरकार ने पिछले महीने पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले वैट में कटौती की है। ये कटौती 2 फीसदी की थी। इसके बावजूद अभी राजस्थान में वैट सबसे अधिक है। यहां पेट्रोल पर 36 फीसदी का वैट लगता है और 1500 रुपये प्रति किलोलीटर के हिसाब से रोड सेस लगता है। वहीं डीजल पर 26 फीसदी वैट लगता है और 1750 रुपये प्रति किलोलीटर डीजल पर रोड सेस लगता है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में सोमवार को ऑर्डिनरी पेट्रोल 99.56, प्रीमियम पेट्रोल की कीमत 102.34 रुपये प्रति लीटर हो गई। वहीं ऑर्डिनरी डीजल 91.48 और टर्बो डीजल 95.15 रुपए प्रति लीटर बिका। रेगुलर और प्रीमियम पेट्रोल में ऑक्टेन नंबर का फर्क होता है। रेगुलर पेट्रोल का ऑक्टेन नंबर 87 होता है, जबकि प्रीमियम पेट्रोल का ऑक्टेन नंबर 91 होता है या उससे भी अधिक होता है। ऑक्टेन नंबर ईंधन के जलने की तीव्रता की क्षमता को दिखाता है।

लगातार सातवें दिन बढ़े दाम

सरकारी तेल कंपनियों ने सोमवार को लगातार सातवें दिन पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी कर दी। सोमवार को पेट्रोल के दाम 27 पैसे और डीजल के दाम 31 पैसे बढ़ाए गए हैं। जयपुर में अब पेट्रोल के दाम 95 रुपए 44 पैसे प्रति लीटर हो गए हैं और डीजल के दाम 87 रुपए 69 पैसे प्रति लीटर हो गए हैं। नए साल में अब तक पेट्रोल के दाम 5 रुपए 70 पैसे और डीजल के दाम में 6 रुपए 05 पैसे प्रति लीटर बढ़ चुके है। वैट में दो प्रतिशत की कटौती के बाद जयपुर में पेट्रोल के भाव 1 रुपए 35 पैसे कम हुए थे और डीजल के दाम 1 रुपए 32 पैसे कम हुए थे। लेकिन बजट के बाद पेट्रोल और डीजल के भावों में अब इससे अधिक बढ़ोतरी हो चुकी है।

दो महीने में घरेलू गैस के दाम 125 रुपए प्रति सिलेंडर बढ़े

कोरोना काल में जब देश की जनता अपनी आजीविका के लिए संघर्ष कर रही है उस दौर में पेट्रोलियम कंपनियां पेट्रोल, डीजल और गैस के दाम बढ़ाकर आम जनता की कमर तोडऩे का काम कर रही थी। four फरवरी को ही घरेलू गैस सिलेंडर के दाम में 25 रुपए की वृद्धि की गई थी और अब 11 दिन बाद एक बार फिर 50 रुपए प्रति सिलेंडर की वृद्धि कर बिना सब्सिडी का घरेलू गैस सिलेंडर 773 के स्तर पर पहुंचा दिया गया है। 15 दिसंबर को भी घरेलू गैस के दाम में 50 रुपए प्रति सिलेंडर की वृद्धि की गई थी। 2 महीने में घरेलू गैस के दाम 125 रुपए प्रति सिलेंडर बढ़ चुके हैं। राजस्थान गैस डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन के महासचिव कार्तिकेय गौड़ की मानें तो अब तक घरेलू गैस के दाम को लेकर हर महीने की अंतिम तारीख को समीक्षा बैठक आयोजित कर महीने की 1 तारीख को दाम बढ़ाए जाते थे, लेकिन अब पेट्रोलियम कंपनियां महीने के बीच में कभी भी दाम बढ़ा रही हैं।

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *