सऊदी अरब में बनेगा सबसे अलग शहर, जहां कार, सड़कें और कार्बन उत्सर्जन होगा शून्य


नई दिल्ली। सऊदी अरब ने शहर नियोम में नई परियोजना ‘द लाइन’ के निर्माण की घोषणा की है। इस शहर पर सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान व्यक्तिगत रूप से निगरानी रख रहे हैं। क्राउन प्रिंस ने अपने भाषण में इस बात की जानकारी दी। सऊदी अरब की ‘द लाइन’ 170 किलोमीटर की आधारभूत संरचना परियोजना होगी, जो शहर के विभिन्न समुदायों को जोड़ती है।  

इस परियोजना की खासियत है कि कारें और सड़कें शहर का हिस्सा नहीं होंगी।  इसके साथ ही यहां कार्बन उत्सर्जन भी शून्य होगा। परियोजना की घोषणा करते हुए, मोहम्मद बिन सलमान ने कहा, ‘हमें एक पारंपरिक शहर की अवधारणा को भविष्य के रूप में बदलने की जरूरत है।     

NEOM के निदेशक मंडल के अध्यक्ष के रूप में मैं आपके सामने ‘द लाइन’ शहर प्रस्तुत करता हूं। 170 किलोमीटर की लंबाई वाले शहर में 10 लाख लोग रह सकते हैं, जहां शून्य कारों, शून्य सड़कों और शून्य कार्बन उत्सर्जन के साथ प्रकृति का 95% संरक्षण कर सकते हैं।’

प्रिंस ने कहा, ‘बढ़ते CO2 उत्सर्जन और समुद्र के स्तर के कारण 2050 तक एक अरब लोगों को दूसरी जगह शिफ्ट होना होगा। 90 प्रतिशत लोग प्रदूषित हवा में सांस लेते हैं। हमें विकास के लिए प्रकृति का त्याग क्यों करना चाहिए? प्रदूषण की वजह से हर साल 70 लाख लोगों की मौत क्यों होनी चाहिए? ट्रैफिक दुर्घटनाओं के कारण हमें हर साल दस लाख लोगों को क्यों खोना चाहिए?’

‘द लाइन’ परियोजना का निर्माण कार्य इस साल की पहली तिमाही में शुरू हो जाएगा।  नियोम में एक उच्च गति वाले सार्वजनिक परिवहन सिस्टम होगा और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की इसमें महत्वपूर्ण भूमिका होगी। यहां स्कूल, स्वास्थ्य केंद्र और हरियाली जैसी सुविधाएं होंगी।

यह खबर भी पढ़े: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच से बाहर हुए भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा

.(tagsToTranslate)सऊदी अरब(t)saudi arabia(t)mohammed bin salman(t)neom(t)future metropolis(t)uae


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *