Bihar Finances 2021: Introduced The Finances Of Nitish Authorities, Know – Which Division Received Its Share?…


पटना: बिहार विधानसभा सभा के बजट सत्र के दौरान सोमवार को बिहार उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश किया. पेश किए गए बजट के अनुसार अगले एक साल में सरकार कुल 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रुपये खर्च करेगी.

इस विभाग में खर्च किए जाएंगे इतने करोड़

वित्तीय वर्ष 2021-22 में बिहार सरकार द्वारा शिक्षा विभाग में कुल 38035.93 करोड़ रुपये खर्च की जाएगी. इसमें स्कीम के मद में 21939.03 करोड़ रुपये और स्थापना और प्रतिबद्धता के मद में 16096.90 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. वहीं, स्वास्थ्य विभाग के स्कीम मद में 6927.00 करोड़ रुपये और स्थापना और प्रतिबद्ध व्यय 6337.87 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. ऐसे में देखा जाए तो स्वास्थ्य विभाग में कुल 13264.87 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे जो पिछले वर्ष के बजट उपबंध से 21.28 प्रतिशत अधिक है.

सीएम नीतीश ने ट्वीट कर कही ये बात 

इधर, बजट पेश होने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि यह बजट संतुलित है और सभी वर्गों के हित को ध्यान में रखकर बनाया गया है. वर्ष 2005 से अब तक राज्य की अर्थव्यवस्था में विकास दर डबल डिजिट में रही है. उसे यह बजट और गति देगा.

बजट पेश करने के दौरान डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि सभी वर्ग को ध्यान में रखते हुए बजट तैयार किया गया है. इससे सभी वर्गों को लाभ मिलेगा. सदन में उन्होंने कोरोना काल के दौरान सरकार द्वारा प्रवासियों, कोरोना पीड़ितों और कोरोना योद्धाओं पर किए गए खर्च की जानकारी दी. वहीं, कोरोना योद्धाओं के काम को सराहा.

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की कविता याद की. वहीं, सदन में उन्होंने कविता की पंक्तियों को दोहराया. कोरोना वैक्सीन के लिए उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद दिया. साथ ही वैज्ञानिकों के काम को भी सराहना की.

डिप्टी सीएम ने सात निश्चय पार्ट-वन के योजनाओं के तहत की गई खर्चाओं का ब्यौरा दिया. वहीं, योजना से लाभांवित हुए लोगों के संबंध में भी जानकारी दी. उन्होंने सात निश्चय योजना पार्ट टू के तहत किए जाने वाले कामों की जानकारी दी है. वहीं, योजनाओं के तहत किस वर्ग को किस प्रकार लाभ मिलेगा इस संबंध में बात की है.

उन्होंने कहा कि सात निश्चय पार्ट- 2 के सशक्त नारी, सक्षम नारी योजना के तहत इंटर पास होने के बाद 25 हजार और स्नातक उत्तीर्ण होने पर 50 हजार रुपये दिया जाएगा. वहीं, नौकरी के क्षेत्र में भी उन्हें अतिरिक्त सुविधा दी जाएगी.

डिप्टी सीएम ने बताया कि पशु पालन और मत्स्य पालन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए काम किया जाएगा. मत्स्य पालन पर विशेष जोर दिया जाएगा. इससे इस काम से जुड़े लोगों को लाभ मिेलेगा. वहीं. मछलियों के निर्यात से बिहार की आर्थिक स्थिति भी सुधरेगी. उन्होंने बताया कि बाल हृदय योजना लागू कर दी गई है. इस बाबत 300 करोड़ की राशि खर्च की जाएगी. इस योजना के तहत जन्म से दिल में छेद लेकर पैदा हए बच्चों का मुफ्त इलाज किया जाएगा.

.(tagsToTranslate)Bihar Vidhan Sabha Finances session(t)Bihar Finances Session 2021(t)Bihar Finances 2021(t)Bihar Finances 2021 Information(t)Bihar Information(t)Nitish Kumar(t)bihar training funds 2021(t)bihar funds 2021 PDF(t)Tarkishore Prasad


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *