Ind vs Eng, Motera Check Unique:: तीसरे टेस्ट के लिए मोटेरा में तैयार हैं दो तरह की पिच, इंग्लिश…


भारत और इंग्लैंड के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में 24 फरवरी से खेला जाना है. दूसरे टेस्ट की हार के बाद इंग्लैंड के बल्लेबाजों को ये तो समझ आ गया होगा कि, स्पिन की मददगार भारतीय पिचों पर रन बनाना इतना आसान नहीं हैं. मेजबान होने के नाते भारत घरेलू परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाना चाहता है. पिच को लेकर वो मेहमान टीम को किसी भी तरह की तैयारी का मौका नहीं देना चाहता. यहीं वजह है कि, इंग्लैंड को भ्रम में रखने के लिए मोटेरा के इस स्टेडियम में दो तरह की पिच तैयार की गयी हैं. चेन्नई में हुए दूसरे टेस्ट की तरह यहां भी बॉल घूमेगी, पिच पर कितनी घास होगी, तेज गेंदबाजों के लिए मददगार होगी की नहीं, ये कुछ ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब ढूंढ़ना इंग्लैंड की टीम के लिए मुश्किल हो गया है.

मैच से 48 घंटे पहले आईसीसी को सौंपी जाती है पिच 

अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों के लिए इस्तेमाल होने वाली पिच को मैच से 48 घंटे पहले आईसीसी के मैच अधिकारियों को सौंपा जाता है. भारत भी पिच को लेकर इंग्लैंड की टीम के संदेह को बनाए रखना चाहती है और आईसीसी के अधिकारियों को सौंपने से पहले पिच के बर्ताव को लेकर खुलासा नहीं करना चाहती. इस से कप्तान जो रूट और इंग्लैंड के लिए समय रहते अंतिम एकादश का चयन करना कठिन साबित हो रहा है. यदि पिच तेज गेंदबाजों की मदद करती है तो प्लेइंग इलेवन अलग होगी लेकिन यदि इस से स्पिनरों को मदद मिलती है तो हालात के अनुसार मुफिद खिलाड़ियों को टीम में खिलाना पड़ेगा. जानकारी के अनुसार इंग्लैंड पिच को लेकर असमंजस की स्थिति में है और तीसरे टेस्ट के लिए टीम चयन को लेकर उसके खेमे में लगातार मंथन चल रहा है.

दोनों ही पिच पर मौजूद है घास 

गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के एक अधिकारी के अनुसार, “मोटेरा में दो तरह की पिच तैयार की गयी है. एक पिच में काली मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है जिस पर गति और अतिरिक्त उछाल देखने को मिलेगा और ये तेज गेंदबाजों के लिए मददगार साबित होगी. दूसरी पिच लाल मिट्टी से तैयार की गयी है, इस पर टर्न और बाउन्स देखने को मिलेगा जो की स्पिन गेंदबाजों को मदद करेगा. दूसरी पिच देखने में बिलकुल दूसरे टेस्ट में इस्तेमाल चेन्नई की पिच की तरह है.” साथ ही उन्होंने कहा, “दोनों ही पिचों पर अच्छी खासी घास मौजूद है जिसके चलते ये कहना मुश्किल है कि ये किस तरह का बर्ताव करेंगी.”

मोटेरा का स्टेडियम भी है नया 

मोटेरा का ये नया स्टेडियम भी हाल ही में तैयार हुआ है. अब तक यहां केवल कुछ टी-20 मुकाबले ही हुए हैं. गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के अधिकारी के अनुसार, “टी-20 के मैच केवल 40 ओवर तक चलते हैं  और इनके आधार पर पिच के बर्ताव को नहीं आंका जा सकता.”

यह भी पढ़ें 

IND vs ENG: सूर्यकुमार यादव के टीम इंडिया में चुने जाने से फैंस में खुशी की लहर, इरफान पठान और हरभजन सिंह ने कही ये बात

कोहली के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने को लेकर उत्साहित हैं राहुल तेवतिया, टीम इंडिया में चयन के बाद कही ये बड़ी बात

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *