IPL ऑक्शन में राहुल शर्मा:​​​​​​​रेव पार्टी और खराब फिटनेस ने क्रिकेट से दूर किया; अब 34 साल की उम्र…


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • IPL Public sale 2021; Leg Spinner Rahul Sharma Speaks To Dainik Bhaskar Over His Efficiency And Controversy

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई31 मिनट पहलेलेखक: राजकिशोर

  • कॉपी लिंक

eight दिसंबर, 2011 की तारीख भारतीय क्रिकेट में यादगार है। इसी दिन वीरेंद्र सहवाग ने वेस्टइंडीज के खिलाफ इंदौर वनडे में 219 रन की पारी खेली थी। लेकिन, यह मैच एक युवा भारतीय के लिए किसी अन्य वजह से यादगार बना था। यह लेग स्पिनर राहुल शर्मा का डेब्यू वनडे मैच भी था।

राहुल उस साल IPL में पुणे वॉरियर्स की ओर से खेले थे और सचिन तेंदुलकर का विकेट भी लिया था। उन्हें भारत का अगला स्टार लेग स्पिनर माना गया। लेकिन, अगले साल से किस्मत ने पलटी मार ली। 2012 में मुंबई में एक रेव पार्टी में उनका नाम आया। इससे उबरकर उन्होंने वापसी की लेकिन 2014 में चोटिल होने के कारण फिर बाहर हो गए। उनका करियर खत्म मान लिया गया। लेकिन, इस खिलाड़ी ने हिम्मत नहीं हारी। अब 34 साल की उम्र में एक बार फिर उनका नाम IPL ऑक्शन लिस्ट में शामिल है। भास्कर ने वापसी की कोशिश कर रहे राहुल से उनकी क्रिकेटिंग जर्नी पर बातचीत की। पेश हैं मुख्य अंश…

आपने IPL 2014 में आखिरी मैच खेला था, उसके बाद आप क्रिकेट से दूर क्यों हो गए? इतने दिन क्या कर रहे थे?
मैं 2015 में भी IPL में शामिल था। लेकिन कमर में दर्द के कारण मैं एक मैच भी नहीं खेल पाया। यही नहीं मेरा बॉलिंग एक्शन भी दर्द की वजह से पहले की तरह नहीं रहा। मैं बॉलिंग करने के दौरान उछलता था। लेकिन दर्द की वजह से मैं ऐसा नहीं कर पा रहा था। मुझे क्रिकेट छोड़ना पड़ा। मैं डिप्रेशन में भी चला गया। अब करीब 7 साल बाद वापसी कर रहा हूं।

इंजरी और डिप्रेशन से किस तरह बाहर निकले, आपको किसका साथ मिला?
मुझे कमर दर्द के इलाज के लिए मुंबई और बैंगलुरु के चक्कर लगाने पड़े। 10 से 15 लाख रुपए खर्च हो गए। मुझे टीम मैनेजमेंट की ओर से कोई सपोर्ट नहीं मिला। हालांकि मैं भगवान का शुक्रगुजार हूं कि मैं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और IPL में खेल चुका था। ऐसे में मेरे पास पैसे थे। घरवालों का सपोर्ट भी मेरे साथ था। इसलिए मैं अपना इलाज कर सका।

जब कई लोग कहने लगे कि मैं वापसी नहीं कर पाऊंगा तो मैं डिप्रेशन में चला गया। हालांकि, तब भी मुझे पूर्व सीनियर खिलाड़ियों का पूरा सपोर्ट मिला। सचिन पाजी, राहुल पाजी और भज्जी भाई मेरे से बात करते थे, वे कहते थे कि वापसी कर सकते हो, अपना ध्यान खेल पर दो। उनकी प्रेरणा से मैं पिछले दो साल से वापसी की कोशिश कर रहा हूं।

क्या अभी आप फिट हैं?
मैं फिट हो गया हूं। इसके लिए मैं पंजाब क्रिकेट टीम के फिजियो गोरख शर्मा का शुक्रगुजार हूं। मैं अपने आपको काफी यंग महसूस कर रहा हूं। मुझे लग रहा है कि मैं अभी डेब्यू करने वाला हूं। मैंने अपना वेट भी कम किया है।

खुद को मानसिक रूप से मजबूत करने के लिए आपने क्या किया?
मेरी वापसी में लॉकडाउन का बहुत बड़ा योगदान रहा है। इस दौरान मुझे अपने को जानने का मौका मिला। मैंने जाना कि किस तरह मेहनत करके मैं गली क्रिकेट से अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंचा। यहां तक पहुंचने के लिए मैं क्या करता था। मुझे अहसास हुआ कि मैं अपने रूटीन से काफी दूर हो चुका हूं। मैंने फिर सुबह उठना शुरू किया। वेट को कम करने के लिए काम किया। मेडिटेशन शुरू किया। अमेरिकी भारतीय मूल के लेखक जय शेट्‌टी की किताब थिंक लाइक अ मॉन्क पढ़ी। इससे मुझे काफी प्रेरणा मिली। मैने ठान लिया कि वापसी करना ही है।

क्या आपको लगता है कि आप फिर से इंडिया टीम में वापसी कर पाएंगे?
जी मुझे केवल एक मौके की तलाश है। मैं टी-20 और वनडे में टीम में वापसी कर सकता हूं। मुझे उम्मीद है कि IPL से यह अवसर मुझे मिलेगा और मैं अपने को साबित कर पाउंगा। मेरी कोशिश है कि मैं पंजाब से सभी फॉर्मेट में घरेलू टूर्नामेंट खेलूं। पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन का भी मुझे सपोर्ट मिल रहा है। मैं पंजाब की टीम में स्टैंडबाई के तौर पर शामिल हूं। चूंकि मैं काफी सालों से बाहर रहा हूं और इस दौरान कई युवा खिलाड़ी आ गए हैं, जिन्होंने अपने को प्रूव किया है। मुझे उनसे चुनौती मिल रही है। मुझे उम्मीद है कि मुझे भी मौका अवश्य मिलेगा।

आपने अपने एक्शन को ठीक करने के लिए क्या किया?
जी मैने पूर्व क्रिकेटर रघुराम भट्‌ट सर के मार्गदर्शन में एक्शन को ठीक करने को लेकर काम किया। मेरा बॉलिंग एक्शन ऐसा था कि मुझे बॉलिंग करने के दौरान उछलना पड़ता था। लेकिन कमर में दर्द की वजह से मैंने उछलना बंद कर दिया था। लेकिन अब मैं फिट हूं और काफी हद तक अपने पुराने बॉलिंग एक्शन में वापस लौट आया हूं।

आपका नाम 2012 में रेव पार्टी में आया था? इससे आपके करियर पर क्या असर पड़ा?
जी, मेरा नाम 2012 में रेव पार्टी में आया था। मेरा इससे कोई लेना-देना नहीं था। मुझे लेकर जो भी बात मीडिया में आई वो गलत थी। मेरे लिए यह बुरा सपना था। जो मैं भूल गया हूं। अब मेरा पूरा ध्यान वापसी पर है।

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *