IPL 2021 public sale/ RCB ने टीम इंडिया के सीनियर तेज गेंदबाज को बाहर किया तो, गौतम गंभीर ने बताया घोर…


नई दिल्ली। एक बार फिर से आईपीएल का मंच सज चुका है। इस बार कुल 292 खिलाड़ियों के नाम इस नीलामी के लिए सलेक्ट किया गया है जिसमें कई बड़े देसी व विदेशी खिलाड़ी शामिल हैं। इसके लिए 18 फरवरी को कई बड़े खिलाड़ियों की नीलामी की जाएगी। ऐसे में किस खिलाड़ी की सबसे ऊंची बोली लगेगी यह गुरूवार को ही पता चलेगा। इस बीच कोलकाता नाइट राइडर्स के पूर्व कप्तान व टीम इंडिया के पूर्व ओपनर बल्लेबाज गौतम गंभीर ने आइपीएल को लेकर अपनी बात सामने राखी है। 

उन्होंने आइपीएल के 14वें सीजन के लिए 18 फरवरी को होने वाली नीलामी से पहले आरसीबी के एक फैसले को घोर आश्चर्य करार दिया। गंभीर ने उमेश यादव को टीम से बाहर किए जाने के बारे में कहा कि, एक बात सबसे अहम ये है कि, एक ही व्यक्ति हर सीजन में अच्छा करे ये जरूरी नहीं है। अगर किसी ने 2019, 2020 में अच्छा किया है तो जरूरी नहीं है कि वो 2021 में भी वैसे ही प्रदर्शन करे। 

दरअसल, आईपीएल की नीलामी से पहले सभी फ्रेंचाइजियों ने अपनी-अपनी टीमों के कुछ खिलाड़ियों को बाहर किया था जिसमें आरसीबी ने सबसे ज्यादा 10 खिलाड़ी निकाले थे। इसमें क्रिस मौरिस, मोइन अली, आरोन फिंच व उमेश यादव जैसे बड़े नाम शामिल थे। 

गंभीर ने आरसीबी के बारे में कहा कि भारतीय क्रिकेट में इस समय बहुत ज्यादा तेज गेंदबाज नहीं हैं। आपको पास नवदीप सैनी हैं तो युवा हैं और मो. सिराज भी हैं। इनका प्रदर्शन टी20 क्रिकेट में ठंडा या गरम हो सकता है और ऐसी स्थिति में उमेश यादव को रीलिज किया जाना बड़े आश्चर्य की बात है। उन्होंने ये बातें स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड पर कही। 

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *