Mercury Retrograde 2021 Gemini Virgo Leo Libra Will Be Benefiting From Budh Margi Knowledge And…


Budha Retrograde Date Time: मकर राशि में बुध वक्री से मागी्र होने जा रहा हैं. पंचांग के अनुसार बुध 21 फरवरी रविवार को सुबह 6 बजकर 21 मार्गी हो रहे हैं. बुध ग्रह अभी मकर राशि में गोचर कर रहे हैं.

बुध मार्गी का फल

बुध को ज्योतिष शास्त्र में शुभ ग्रह माना गया है. बुध को सभी ग्रहों का राजकुमार भी कहा गया है. मिथुन और कन्या राशि का बुध स्वामी है. जब कोई ग्रह वक्री से मार्गी अवस्था में आता है तो उसके फलों में शुभता बढ़ जाती है. इसी प्रकार से बुध के मार्गी होने से बुध के शुभ फलों में वृद्धि होती है.

बुध ग्रह का स्वभाव

ज्योतिष शास्त्र में बुध ग्रह को फौरन निर्णय लेने वाला, वाकपटु और तार्किक सोच का कारक माना गया है. इसके साथ ही बुध का संबंध वाणी, बिजनेस, लेखन, प्रकाशन, हास्य से भी है. जन्म कुंडली में बुध की स्थिति से ही इसके शुभ-अशुभ फलों का पता चलता है. बुध मजबूत स्थिति में होने पर व्यक्ति को धन के मामले में भी अच्छा फल प्रदान करते हैं. बुध के मार्गी होने से जिन लोेगों को प्रोफेशन मीडिया, लेखन, दवा, गणित, कानून आदि से जुड़ा है, उनके लिए लाभ की स्थिति बनेगी. मार्गी होने पर बुध अपनी सीधी चाल में चलेंगे. जिस कारण ये शुभ फल देने में अधिक सक्षम होंगे. वक्री होने पर बुध पीड़ित हो जाते हैं और पूर्ण लाभ नहीं दे पाते हैं.

इन 5 राशियों को देना होगा विशेष ध्यान

बुध के मार्गी होने से मिथुन,कन्या, सिंह, तुला और कुंभ राशि के जातकों को शिक्षा, व्यापार और धन के मामले में लाभ हो सकता है. लेकिन इस दौरान नकारात्मक विचारों से बचना होगा. भगवान गणेश जी की पूजा करने से बुध की अशुभता कम होती है.

Achala Saptami 2021: जीवन में सूर्य के महत्व को बताती है रथ सप्तमी की पूजा, मान सम्मान और उच्च पद की कामना होती है पूर्ण

Chanakya Niti: चाणक्य के अनुसार इन 4 बातों का जो रखते हैं ध्यान, उन्हें मिलता है धन और सम्मान, जानें चाणक्य नीति

.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *