Issues Come up Due To These 5 Issues At House – घर में इन 5 चीजों के रहने से पैदा होती हैं दिक्कतें,…


नई दिल्ली। वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन पर गहरा असर पड़ता है यदि वास्तु के मुताबिक घर की वस्तुएं नहीं रहती हैं तो दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। वास्तु के जानकारों की माने तो घर में रखी कई वस्तुएं शुभ फल देने की बजाय अशुभ कारक हो जाती हैं। ऐसी वस्तुओं के घर में रहने से जीवन में कई तरह की दिक्कतें पैदा हो सकती हैं।

दीवार पर बंद घड़ी का टंगा होना- घड़ियों का इंसान के जीवन में बड़ा महत्व होता है। कहते हैं घड़ियां कीसी के भी बुरे वख्त को टाल सकती हैं। लिहाजा अपने घरों में बंद पड़ी घड़ियों को बिल्कुल ना रखें। ऐसा करने से किस्मत का कांटा भी रुक सकता है।

बंद पड़े ताले होते हैं अशुभ- ताला इंसान की किस्मत खोल सकता है तो हमेशा के लिए बंद भी कर सकता है। जानकार बताते हैं कि घर के भीतर खराब पड़े या बंद ताले हरगिज ना रखें। ऐसा करने से करियर में अड़ंगे विवाह में बाधा आ सकती है।

टूटे-फूटे जूते-चप्पल को रखें दूर- जूते-चप्पल हमारे लिए जितने उपयोगी हो सकते हैं उतने ही संघर्ष को जन्म दे सकते हैं, यदि जीवन में संघर्ष से बचना है तो पुराने जूते-चप्पल हटाएं और पहनने वाले यथा स्थान में रखें। यदि ऐसा नहीं करते हैं तो हर काम में बाधा आसकती है। जानकार तो यह भी कहते हैं कि ऐसे जूते चप्पलों को शनिवार के दिन घर से हटा दें।

फटे-पुराने बेकार पड़े कपड़े – कपड़ों का इंसान से सीधा-सीधा रिश्ता है। घर में गैर जरूरी और खराब पड़े कपड़े हमेशा दुर्भाग्य लाने वाले होते हैं। ऐसे कपड़ों को घर से दूर रखें या बांट दें। तो बेहतर होगा नहीं तो भाग्य का साथ नहीं मिलेगा।

देवी देवताओं की खंडित मूर्तियां और पुराने चित्र– देवी-देवताओं की टूटी-फूटी मूर्तियां और फटे-पुराने चित्रों को उचित समय पर घर से दूर करें नहींतो इस तरह की मूर्तियां और चित्र नकारात्मक ऊर्जा देने लगते हैं। जो स्वास्थ्य से लेकर तरक्की तक हर क्षेत्र में बाधा डाल सकते हैं। इस लिए घर में रखी पुरानी मूर्तियों और चित्रों को बदलते रहें। इनको हटाते समय इनको जमीन के नीचे व्यवस्थित दबा दें या जल में विसर्जित कर दें।

.(tagsToTranslate)5 issues at residence(t)vastu(t)vastu sastra(t)vastu suggestions for residence(t)Astrology and Spirituality Information(t)Astrology and Spirituality Information in Hindi(t)धर्म/ज्योतिष न्यूज़(t)Astrology and Spirituality Samachar(t)धर्म/ज्योतिष समाचार


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *