Rakesh Tikait BKU After the daddy demise the eldest son Naresh was given the throne however Rakesh…


कृषि कानूनों के विरोध में देश के किसानों का आंदोलन लगातार जारी है। इस किसान आंदोलन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान नेता और भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की बड़ी भूमिका देखने को मिल रही है। वो किसानों को मांगों को लेकर लगातार सक्रिय रहे हैं और सरकार एवं किसानों के बीच बातचीत की एक अहम कड़ी बनकर उभर रहे हैं। राकेश टिकैत लंबे समय से किसानों के हक़ की लड़ाई लड़ते आए हैं। गन्ना किसानों के आंदोलन को लेकर भी वो प्रदर्शन का हिस्सा बनते रहे हैं।

पिता की मौत के बाद बड़े बेटे को मिली गद्दी लेकिन राकेश टिकैत ने बटोरी लोकप्रियता- राकेश टिकैत के पिता चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत किसानों का मसीहा कहे जाते थे। 15 मई 2011 को 75 वर्ष की आयु में बोन कैंसर से उनकी मृत्यु हो गई थी। उनके निधन के बाद उनके बड़े बेटे नरेश टिकैत ने बालियान खाप पंचायत और भारतीय किसान यूनियन की जिम्मेदारी संभाली।

लेकिन राकेश टिकैत किसानों का दुख दर्द समझने वाले एक लोकप्रिय नेता बनकर उभरे। पिता की मृत्यु के बाद जितने भी किसान आंदोलन हुए, अधिकतर का नेतृत्व राकेश टिकैत ने ही किया। राकेश टिकैत कुछ समय के लिए दिल्ली पुलिस में कार्यरत भी थे लेकिन उन्होंने ये नौकरी छोड़ दी और अपने पिता की तरह ही किसानों के हित में काम करने लगे।

किसानों के लिए 44 से अधिक बार जा चुके हैं जेल- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राकेश टिकैत किसानों के हक की लड़ाई में 44 से अधिक बार जेल का चुके हैं। एक बार उन्होंने दिल्ली में लोकसभा के बाहर गन्ना की कीमत बढ़ाए जाने को लेकर गन्ना की फसल जला दी थी जिसके बाद उन्हें तिहाड़ जेल में रखा गया था। राकेश टिकैत राजस्थान के बाजरा उगाने वाले किसानों के आंदोलन का भी हिस्सा रह चुके हैं।

जानिए क्या करते हैं छोटे भाई सुरेंद्र और नरेंद्र- राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष हैं। राकेश टिकैत से छोटे और दो भाई हैं- सुरेंद्र टिकैत और नरेंद्र टिकैत। राकेश से छोटे सुरेंद्र टिकैत मेरठ के एक शुगर मिल में मैनेजर हैं, वहीं सबसे छोटे भाई नरेंद्र टिकैत खेतीबाड़ी का काम संभालते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो





.(tagsToTranslate)rakesh tikait(t)rakesh tikait household(t)naresh tikait(t)BKU(t)BKU spokesperson rakesh tikait(t)naresh tikait(t)rakesh tikait brothers(t)chaudhary mahendra singh tikait(t)rakesh tikait historical past(t)rakesh tikait delhi police(t)rakesh tikait protest for farmers(t)राकेश टिकैत(t)नरेश टिकैत(t)चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *