Russian and North Korean Hackers cyber assault on Covid 19 Vaccine producers in India | कोरोना…


नई दिल्ली: माइक्रोसॉफ्ट को कोविड-19 वैक्सीन बनाने वाली भारत समेत अन्य देशों की 7 प्रमुख कंपनियों को निशाना बनाने वाले साइबर हमलों का पता चला है. इसमें कनाडा, फ्रांस, भारत, दक्षिण कोरिया और अमेरिका की प्रमुख फार्मास्युटिकल कंपनियां और वैक्सीन रिसर्चर्स शामिल हैं.

रूस और नॉर्थ कोरिया से हुआ साइबर अटैक
ये हमला रूस (Russia) और नॉर्थ कोरिया (North Korea) से किया गया है. हालांकि माइक्रोसॉफ्ट ने वैक्सीन निर्माताओं के नामों का खुलासा नहीं किया है. भारत के मामले में बात करें तो कम से कम 7 भारतीय फार्मास्युटिकल कंपनियां कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ वैक्सीन (Vaccine) विकसित करने के लिए काम कर रही हैं, जिनका नेतृत्व सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक कर रहे हैं.

माइक्रोसॉफ्ट के अनुसार, जिन कंपनियों को निशाना बनाया गया है, उनमें अधिकांश वैक्सीन निर्माता ऐसे हैं जिनके वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है.

कस्टमर सिक्योरिटी एंड ट्रट के कॉपोर्रेट वाइस प्रेसीडेंट टॉम बर्ट ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, ‘एक क्लीनिकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन क्लीनिकल ट्रायल कर रहा है और एक कोविड-19 वैक्सीन टेस्ट विकसित कर चुका है. ज्यादातर ऐसे ऑर्गेनाइजेशन को निशाना बनाया गया है, जिन्होंने या तो सरकार से कॉन्ट्रैक्ट कर लिए हैं या सरकारी एजेंसियों ने उनमें निवेश किया है.’

ये भी पढ़ें- दीवाली के बाद दिल्ली पर जहरीला अटैक, कई इलाकों में AQI 999

हैकर्स साइबर हमले के लिए अपनाते हैं ये तरीका
साइबर हमले करने वाले इन एक्ट के नाम स्ट्रोंटियम, जिंक और सेरियम हैं. ये ऐसे हमले हैं जिनका उद्देश्य हजारों या लाखों प्रयास करके लोगों के खातों में सेंध लगाना है. ये क्रिडेंशियल्स चोरी करके खुद को रिक्रूटर की तरह दर्शाकर जॉब के लिए संदेश भेज रहे हैं या डब्ल्यूएचओ के महामारी संबंधी संदेश भेज रहे हैं.

बर्ट ने कहा है, ‘इन हमलों के अधिकांश हिस्से को हमने अपने सुरक्षा तंत्र से रोक दिया था. साथ ही हमने सभी ऑर्गेनाइजेशन को इसकी सूचना दे दी है. जिन ऑर्गेनाइजेशन को निशाना बनाने में हमलावर सफल हुए हैं, उन्हें हमने मदद की पेशकश भी की है.’

बता दें कि इससे पहले भी स्वास्थ्य के क्षेत्र को साइबर हमलावरों ने निशाना बनाया है. कुछ समय पहले अमेरिका में कई अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा संगठनों को निशाना बनाने के बाद उनसे फिरौती मांगी गई थी.

VIDEO

.(tagsToTranslate)कोरोना वायरस(t)Covid 19(t)Coronavirus(t)Vaccine(t)Russia(t)North Korea(t)Hackers(t)Cyber assault


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *