Veteran Actor Soumitra Chatterjee Handed Away At 85 | सौमित्र चटर्जी का 85 की उम्र में निधन, कोरोना…


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

सौमित्र चटर्जी ने अपने करियर में करीब 100 फिल्मों में काम किया था।

  • सौमित्र चटर्जी ने डायरेक्टर सत्यजीत रे के साथ 14 फिल्मों में काम किया
  • 2012 में चटर्जी को दादा साहब फाल्के से सम्मानित किया गया था

दिग्गज बंगाली फिल्म अभिनेता सौमित्र चटर्जी (85) का रविवार को कोलकाता के अस्पताल में निधन हो गया। सौमित्र को करीब एक महीने पहले कोरोना संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तब से उनकी हालत में उतार-चढ़ाव चल रहा था। शनिवार को अस्पताल ने उनकी हालत बेहद गंभीर बताई थी। बुलेटिन में कहा था कि कोई चमत्कार ही उन्हें बचा सकता है।

राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ

सौमित्र के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ कोलकाता के केवड़ातल घाट पर हुआ। यहां बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, मुख्य सचिव अलापन बंदोपाध्याय समेत प्रदेश के कई मंत्री मौजूद रहे। इसके पहले उनके शव को अस्पताल से उनके घर ले जाया गया था। शाम साढ़े three बजे उनका पार्थिव शरीर रवींद्र सदन में रखा गया, जहां बड़ी संख्या में उनके फैंस ने श्रद्धांजलि दी।

कोरोना हुआ, फिर ठीक भी हो गया
सौमित्र को 6 अक्टूबर को हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था। 7 अक्टूबर को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 15 अक्टूबर को वे कोरोना से मुक्त हो गए थे। चटर्जी ने सितंबर के आखिरी हफ्ते में ही एक सीरीज की शूटिंग पूरी की थी। वे परमब्रत चट्टोपाध्याय की फिल्म ‘अभिज्ञान’ की शूटिंग भी कर रहे थे। इसके अलावा वह अपनी बायोपिक और डॉक्युमेंट्री पर भी काम कर रहे थे।

सत्यजीत रे के साथ कोलेबोरेशन पॉपुलर रहा
सौमित्र को खासकर ऑस्कर विनिंग डायरेक्टर सत्यजीत रे के साथ कोलेबोरेशन के लिए जाना जाता है। दोनों ने साथ में 14 फिल्मों में काम किया था। ये बांग्ला फिल्में हैं – ‘अपुर संसार’, ‘देवी’, ‘तीन कन्या’, ‘अभिजन’, ‘चारुलता’, ‘कुपुरुष’, ‘अरंयेर दिन रात्रि’, ‘अशनी संकेत’, ‘सोनार केला’, ‘जोय बाबा फेलुनाथ’, ‘हीरक राजार देशे’, ‘घरे बैरे’, ‘गणशत्रु’ और ‘शाखा प्रोशाखा’।

चटर्जी ने अपने करियर में करीब 100 फिल्मों में काम किया है, जिनमें दो हिंदी फिल्में ‘निरुपमा’ और ‘हिंदुस्तानी सिपाही’ भी शामिल हैं। उन्होंने हिंदी में ‘स्त्री का पत्र’ नाम से फिल्म डायरेक्ट भी की है।

राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री ने शोक जताया
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, ‘सौमित्र चटर्जी के निधन से भारतीय सिनेमा ने एक दिग्गज अभिनेता खो दिया है। अपु ट्रायोलॉजी और सत्यजीत राय की फिल्मों में यादगार अभिनय के लिए याद किया जाएगा।’

ये बड़े सम्मान भी मिले

  • 2012 में एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का सबसे बड़ा सम्मान दादा साहब फाल्के अवॉर्ड मिला।
  • तीन बार नेशनल फिल्म अवॉर्ड से नवाजे गए।
  • 2004 में भारत सरकार ने सौमित्र को पद्म भूषण से सम्मानित किया।

.(tagsToTranslate)Soumitra Chatterjee(t)Soumitra Chatterjee Demise(t)Soumitra Chatterjee COVID-19(t)Soumitra Chatterjee Bangali Actor(t)Bollywood newest Information In hindi


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *